यूक्रेन ने मॉस्को पर किया ड्रोन अटैक, रूसी सेना को बंद करने पड़े हवाई अड्डे


दुनिया 05 July 2023 (167)
post

मॉस्को: 24 फरवरी 2022 से शुरू हुई रूस-यूक्रेन जंग सवा साल से  लगातार जारी है। मिसाइल हमलों के बाद दोनों देश एक-दूसरे पर ड्रोन के जरिए हमला करने में जुटे हुए हैं। इसी बीच मंगलवार को यूक्रेनी ड्रोन ने मॉस्को पर एक हमला किया  जिससे रूसी सेना अपना बचाव किया। रूसी सेना ने कहा कि इस ड्रोन हमले से बचाव के कारण अधिकारियों को शहर के एक हवाई अड्डे को कुछ समय के लिए बंद करना पड़ा।मॉस्को के मेयर सर्गेई सोबयानिन ने कहा कि इस ड्रोन हमले में कोई हताहत या क्षति नहीं हुई है।


ड्रोन हमले के कारण अधिकारियों को मॉस्को के वनुकोवो हवाई अड्डे पर उड़ानों को अस्थायी रूप से प्रतिबंधित करना पड़ा और उड़ानों को अन्य मॉस्को हवाई अड्डों की ओर मोड़ना पड़ा। हालांकि, ड्रोन हमले को विफल करने के बाद प्रतिबंध हटा दिए गए।जानकारी के अनुसार पिछले महीने भी रूस पर इस तरह का हमला किया गया था।हमेशा से यूक्रेनी अधिकारी रूस के उचित क्षेत्र के अंदर हमलों पर किसी तरह की टिप्पणी करने से बचते हैं, ठीक वैसे ही इस बार भी हुआ है। यूक्रेनी अधिकारियों द्वारा इस हमले की जिम्मेदारी का दावा नहीं किया गया है।


रूसी रक्षा मंत्रालय ने कहा कि पांच में से चार ड्रोन को मास्को के बाहरी इलाके में हवाई सुरक्षा द्वारा मार गिराया गया और पांचवें को इलेक्ट्रॉनिक युद्ध साधनों द्वारा जाम कर दिया गया और मजबूरन नीचे गिराया गया। गौरतलब है कि यह हमला जो पिछले महीनों के दौरान रूसी राजधानी पर भाड़े के प्रमुख येवगेनी प्रिगोझिन द्वारा शुरू किए गए विद्रोह के बाद हुआ है। दरअसल, वैगनर सैनिकों ने दो दशकों से अधिक समय में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के लिए सबसे बड़ी चुनौती के रूप में मास्को का रुख किया था। हालांकि, कुछ समय बाद रूसी राष्ट्रपति की चेतावनी के बाद वैगनार ग्रुप के सदस्यों को अपने फैसले पर दोबारा विचार करना पड़ा और उन्होंने अपना संघर्ष वापस ले लिया। 


You might also like!





RAIPUR WEATHER